बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना 2024 ऑनलाइन पंजीकरण, लाभार्थी सूची?

आप सभी जानते हैं कि हमारी केंद्र और राज्य सरकार हमारे लिए विभिन्न योजनाओं का संचालन करती है। इन सभी योजनाओं का संचालन कर सरकार देश के नागरिकों का विकास और उज्ज्वल भविष्य चाहती है। दिन प्रति दिन सरकार महिलाओं के लिए भी विभिन्न योजनाएं शुरू करती है। जिन योजनाओं का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाना होता है। कोरोना के समय बिहार सरकार द्वारा बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना के माध्यम से बिहार सरकार राज्य की गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को लाभ पहुंचाएगी। सरकार इन महिलाओं एवं बच्चों को आंगनवाड़ी केंद्र से भोजन एवं राशन देगी। इस योजना को कोरोना के समय शुरू किया गया था जो आज भी जारी है। इस योजना के माध्यम से सरकार महिलाओं एवं बच्चों को भरपेट राशन प्रदान करेगी। यदि आप बिहार राज्य की महिला हैं और आपकी आर्थिक स्थिति खराब है तो आप इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकती है। आज हम आपको इस लेख के बारे में बताएंगे, इस योजना के मुख्य विचार, उद्देश्य, लाभ और विशेषताएं, पात्रता मापदंड, आवश्यक दस्तावेज और आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में बताएंगे। कृपया आप हमारे इस लेख को पूरा एवं ध्यानपूर्वक पढें।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के द्वारा बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना की शुरुआत की गई थी। बिहार सरकार ने यह योजना कोरोना के समय शुरू की थी जो कि आज भी कायम है। लॉकडाउन के समय ऐसी कई गर्भवती महिलाएं थीं जिन्हें भोजन नहीं मिल पा रहा था और वह अपने बच्चों का भी पेट नहीं भर पा रही थी। इसी को ध्यान में रखते हुए बिहार सरकार ने इस योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के माध्यम से उन महिलाओं एवं बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्र द्वारा भोजन एवं राशन प्रदान किया जाएगा।  इस योजना को पूरा करने के लिए समाज कल्याण विभाग, एकीकृत बाल विकास सेवा, और आंगनवाड़ी केंद्र को चुना गया था। सरकार ऑनलाइन माध्यम से इन गर्भवती महिलाओं के बैंक अकाउंट में आर्थिक सहायता भी प्रदान करेगी। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए महिलाओं का स्वयं का बैंक अकाउंट होना आवश्यक है और साथ ही उनका बैंक अकाउंट उनके आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए। बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना

बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना के मुख्य विचार

योजना का नाम बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना
किसके द्वारा शुरू की गई बिहारसरकार द्वारा
किसके द्वारा पेश किए गई  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के द्वारा
कब शुरू की गई 30 मार्च 2020 लॉकडाउन में
लाभार्थी  बिहार की गर्भवती महिलाएं एवं बच्चे
उद्देश्य महिलाओं एवं बच्चों को भोजन एवं राशन प्रदान करना
राज्य बिहार
साल 2023
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट  http://www.icdsonline.bih.nic.in/

बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना का उद्देश्य

बिहार सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना का उद्देश्य  गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को भोजन एवं राशन प्रदान करना है। कोरोना के समय पर जब महिलाओं एवं बच्चों के पास अपने पेट भरने का कोई उपाय नहीं था तब सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना के माध्यम से सभी महिलाएं एवं बच्चे आंगनबाड़ी केंद्र से मदद प्राप्त कर सकते हैं और साथ ही उन्हें आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी। महिलाओं को आर्थिक सहायता उनके बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से भेजी जाएगी।

लाभार्थियों की सूची

  • आंगनवाड़ी केंद्र में पंजीकृत बच्चे
  • बिहार की गर्भवती महिलाएं
  • स्तन पान कराने वाली महिला

लाभ और विशेषताएं

  • बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के द्वारा इस योजना की शुरुआत की गई थी।
  • बिहार सरकार ने कोरोना के समय शुरू की थी जो कि आज भी कायम है।
  • इस योजना के माध्यम से उन महिलाओं एवं बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्र द्वारा भोजन एवं राशन प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना को पूरा करने के लिए समाज कल्याण विभाग, एकीकृत बाल विकास सेवा, और आंगनवाड़ी केंद्र को चुना गया था।
  • सरकार ऑनलाइन माध्यम से इन गर्भवती महिलाओं के बैंक अकाउंट में आर्थिक सहायता भी प्रदान करेगी।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए महिलाओं का स्वयं का बैंक अकाउंट होना आवश्यक है और साथ ही उनका बैंक अकाउंट उनके आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  • लाभ 6 महीने तक के बच्चे से 6 वर्ष के बच्चे तक उठा सकते हैं।
  • इस योजना के लिए महिलाएं घर बैठे ही ऑनलाइन आवेदन कर सकती है और उन्हें कहीं जाने की आवश्यकता भी नहीं है।
  • इस योजना के माध्यम से महिलाएं सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनेंगी।
पात्रता मापदंड
  • जो भी महिला इस योजना के लिए आवेदन करना चाहती है वह बिहार की स्थाई निवासी होनी चाहिए।
  • महिला के पास बिहार राज्य का डोमिसाइल सर्टिफिकेट होना अनिवार्य है।
  • आवेदिका आंगनवाड़ी केंद्र से संबंधित होनी चाहिए।
आवश्यक दस्तावेज
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • डोमिसाइल सर्टिफिकेट
  • बैंक खाता विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको बिहार सरकार समाज कल्याण विभाग एकीकृत बाल विकास सेवा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद होमपेज पर आपको “बिहार के अंतर्गत आने वाले आंगनवाड़ी में पहले से निबंधित लाभार्थियों को कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए आंगनवाड़ी के माध्यम से दिए जाने वाले गर्म पका भोजन एवं THR के स्थान पर समतुल्य राशि का सीधे बैंक खाते में भुगतान हेतु ऑनलाइन निबंधन के लिए यहाँ क्लिक करें” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको “प्रपत्र भरने के लिए यहाँ क्लिक करें” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब अगले पेज पर एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फार्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे जिला, पंचायत, आंगनवाडी, नाम आदि जैसी जानकारी को भरें।
  • इसके बाद आपको Register करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपको लॉग इन करने के लिए यहाँ क्लिक करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब लॉगिन पेज पर आपको अपना आधार नंबर, मोबाइल नंबर, पासवर्ड और कैप्चा कोड को दर्ज करना होगा।
  • फिर आपको लॉग इन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
आंगनवाड़ी पोर्टल पर लॉग इन करने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको बिहार सरकार समाज कल्याण विभाग एकीकृत बाल विकास सेवा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब होमपेज पर आपको लॉग इन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद लॉग इन पेज खुल जाएगा जिसपर आपको अपनी यूज़र आईडी, पासवर्ड और कैप्चा कोड को दर्ज करना होगा।
  • फिर आपको लॉग इन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी लॉग इन करने की प्रक्रिया समाप्त हुई।
मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आप को प्ले स्टोर पर जाना होगा।
  • फिर आपको सर्च बार में आंगन बिहार मोबाइल ऐप लिखना होगा।
  • इसके बाद एक नया पेज खुल जाएगा जिसमें आपको इंस्टाल के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब थोड़ी देर बाद आपके फ़ोन में यह मोबाइल ऐप डाउनलोड हो जाएगा।
  • इस मोबाइल ऐप के माध्यम से आप इस योजना का पूरा पूरा लाभ प्राप्त कर सकती है।

बिहार अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना

Application Form Click Here
Official Link Click Here
ModiScheme Homepage Click Here

Leave a Comment