चंडीगढ़ परवरिश योजना के तहत सरकार दे रही अनाथ बच्चों को आर्थिक सहायता। लाभ कैसे प्राप्त करे?

चंडीगढ़ सरकार द्वारा राज्य के अनाथ बच्चों को सहारा देने के लिए एक अहम योजना की शुरुआत की जा रही हैं जिसका नाम चंडीगढ़ परवरिश योजना हैं राज्य सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। ताकि वह अपना गुजर बसर आसानी से कर सके। दोस्तों अगर आप चंडीगढ़ सरकार द्वारा शुरू की गई Chandigarh Parvarish Yojana की सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें। क्योकि आज हम आपको अपने आर्टिकल में योजना की सभी जानकारी जैसे योजना का लाभ उद्देश्य, विशेषताएं पात्रता एवं दस्तावेज आदि सभी की जानकारी देने जा रहें हैं।

वित्तीय वर्ष जुलाई 2021 में चंडीगढ़ सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत की गई हैं आपके प्रदेश चंडीगढ़ में कोविड-19 के समय जितने भी अनाथ हुए बच्चे हैं उन सभी के जीवन को सुधार लाने के लिए राज्य सरकार द्वारा चंडीगढ़ परवरिश योजना को आरंभ किया गया है। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत वित्तीय सहयता के रूप में प्रतिमाह 900 रूपए और साथ ही प्रत्येक बच्चे के नाम पर 3 लाख रूपए की फिक्स्ड डिपॉज़िट किया जाएगा। ताकि उनके जीवन में सुधार आ सके। इसके अलावा उन्हें कई प्रकार के लाभ जैसे की निशुल्क स्कूली शिक्षा भरण पोषण की सामग्री रहन-सहन की व्यवस्था चिकित्सा सुविधा के लिए आर्थिक सहायता सभी तरह से इन्हें मदद की जाएगी। इस योजना का लाभ प्राप्त करके राज्य के अनाथ बच्चे को भविष्य बेहतर बन सकेगा।

चंडीगढ़ परवरिश योजना

Highlights of Chandigarh Parvarish Yojana

योजना का नाम चंडीगढ़ परवरिश योजना
लाभार्थी कोविड-19 के कारण अनाथ हुए बच्चे
उद्देश्य अनाथ बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के साथ-साथ अन्य कई तरह की सुविधाएं मुहैया करवाना।
शुरू की गई चंडीगढ़ सरकार द्वारा
साल 2022
संबंधित विभाग समाज कल्याण विभाग चंडीगढ़
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों प्रकार से
अधिकारिक वेबसाइट https://chdsw.gov.in/

चंडीगढ़ परवरिश योजना उद्देश्य

दोस्तों जैसा की आप सभी जानते हैं की कोरोना काल के समय लोगो को काफी समस्याओ का सामना करना पड़ा हैं। यहां तक की कुछ लोगो को अपनी जान तक गवानी पड़ी हैं। ऐसे में अनाथ हुए बच्चों के जीवन को संवारने के लिए चंडीगढ़ परवरिश योजना की शुरुआत की गई है। राज्य सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य अनाथ बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के साथ-साथ अन्य कई तरह की सुविधाएं मुहैया करवाना हैं

जैसे-निशुल्क स्कूली शिक्षा, भरण पोषण की सामग्री, रहन सहन की व्यवस्था ,चिकित्सा सुविधा, स्नातक की पढ़ाई के लिए आर्थिक सहायता आदि प्रदान करना हैं। राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना अनाथ बच्चो का जीवन सुधारने में कारागार साबित होगी साथ ही सरकार द्वारा प्रत्येक पात्र बच्चे के नाम पर 3 लाख रुपए का Fixed Deposit किया जाता है जो उन्हें 21 वर्ष की आयु पूरी करने के बाद दिया जाएगा।

चंडीगढ़ परवरिश योजना के तहत अबतक 270 अनाथ बच्चे हुए वेरीफाई

कोरोना के आने के बाद देश में ऐसे बहुत से बच्चे है, जिन्हे अपने माँ बाप को खोना पड़ा था। चण्डीगढ राज्य में  विभाग के द्वारा अनाथ बच्चो को लाभ देने के लिए  राज्य के 270 बच्चो को वेरीफाई  किया गया हैं। इन बच्चों में से 12 बच्चे पूरी तरह से अनाथ है जबकि 154 बच्चे ऐसे हैं जिनके मां या पिता में से किसी एक की कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मृत्यु हो चुकी है। प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से राज्य के लाभार्थी बच्चो को  हर महीने 2500 रुपए से लेकर 5000 रुपए तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी साथ ही सोशल वेलफेयर विभाग द्वारा 154 बच्चों को 53 लाख रुपए की राशि जारी की गई है।‌ इस योजना का लाभ पढ़ाई कर रहें सभी बच्चो को दिया जाएगा।

परवरिश योजना के अंतर्गत शामिल बच्चों की श्रेणियाँ

  • ये श्रेणियां मुख्य रूप से 4 प्रकार की हैं। जिनकी जानकारी हम आपको नीचे दे रहें हैं जैसे –
  • पहली श्रेणी में वो अनाथ बच्चे आते हैं जो कोविड के चलते अपने माता पिता में से किसी एक को खो दिया है और जीवित माता-पिता ने बच्चे को सरेंडर कर दिया है ।
  • जबकि दूसरी श्रेणी में वो बच्चे आएंगे, जिन्होंने अपने माता पिता खो दिए है, और अपने किसी रिश्तेदारों के साथ रह रहें है।
  • इसके आलावा तीसरी श्रेणी में वो बच्चे आते है, जिन्होंने अपने माता पिता को खो दिया है, या जो बच्चे जीवित माता – पिता और विस्तारित परिवार के साथ रह रहें है।
  • चौथी श्रेणी में वो बच्चे आएंगे जो खुद covid पॉजिटिव है।

लाभ

  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी बच्चो के लिए 300000 की फिक्स डिपॉजिट एफडी भी करवाई जाएगी। जो उन्हें 21 वर्ष की आयु पूरी हो जाने के बाद दी जाएगी।
  • चंडीगढ़ परवरिश योजना का लाभ राज्य के अनाथ बच्चो को दिया जाएगा।
  • परवरिश योजना चंडीगढ़ के अंतर्गत सभी पात्रता रखने वाले अनाथ बच्चों को हर महीने 900 रूपए व 1000 रूपए की सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  • साथ ही पात्र अनाथ बच्चों को इस योजना के तहत सरकारी स्कूलों में निशुल्क शिक्षा दी जाएगी।
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए बच्चे की आयु 6 वर्ष से 18 वर्ष के मध्य होनी चाहिए।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करके सभी पात्र बच्चो का लालन पोषण संबंधी सभी खर्चे आसानी से पूरा हो सकेगा।
  • प्रदेश सरकार राज्य के Covid-19 के कारण अनाथ हुए बच्चों की परवरिश करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान प्रदान कर रही है।
  • Chhattisgarh Parvarish Yojana तहत ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया रखी गई है। आवेदक के आवेदन को स्वीकृति एसडीओ के द्वारा दी जाएगी।

पात्रता

  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना का लाभ राज्य के मूल निवासी को दिया जाएगा।
  • जिनके माता-पिता दोनों या किसी एक की मृत्यु कोरोनावायरस संक्रमण के कारण हो गई है वे सभी योजना के पात्र होंगे।
  • साथ ही गरीब परिवारों से संबंध रखने वाले (बीपीएल कार्ड धारक) बच्चों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • इसके आलावा वह सभी बच्चे जो खुद कोरोनावायरस के शिकार है या एड्स व कुष्ठ बीमारी से ग्रस्त है।
  • एड्स रोग से ग्रस्त बच्चे योजना का लाबाह प्राप्त कर सकते हैं।
  • इसके अलावा बेसहारा/अनाथ बच्चे जो अपने रिश्तेदारों के पास रह रहे हैं उन्हें भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
आवश्यक दस्तावेज
  • बच्चे का आधार कार्ड
  • माता पिता का आधार कार्ड / बिजली बिल / वोटर आईडी /लाइसेंस
  • स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र जिससे उसकी आयु की पहचान हो सकें।
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • राशन कार्ड
  • बैंक खाता संख्या

Punjab Rozgar Guarantee Scheme

चंडीगढ़ परवरिश योजना आवेदन प्रक्रिया?
  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले समाज कल्याण विभाग, महिला एवं बाल विकास चंडीगढ़ प्रशासन की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना हैं।
  • वहां जाने के बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • आपको इस पर लाभार्थी कार्नर में आवेदन फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने पीडीएफ फॉर्मेट में आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • आप इसे डाउनलोड करके उसका प्रिंट आउट निकालेगें।
  • अब आपको फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को भरकर सभी आवेदन दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच कर देना है।
  • फिर आपको यह आवेदन फॉर्म अपने नजदीकी आंगनबाड़ी में जाकर जमा करना है।
  • या फिर यह फॉर्म सीडीपीओ कार्यालय में भी जमा कर सकते हैं।
  • चंडीगढ़ परवरिश योजना के अंतर्गत आप इस प्रकार आसानी से आवेदन कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

बेबे नानकी लाडली बेटी कल्याण योजना

Official Link Click Here
प्रधानमंत्री योजना लिस्ट Click Here
ModiScheme Homepage Click Here

 

Leave a Comment