दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना बिहार 2024 के लिए ऑनलाइन फॉर्म कैसे भरे?

गरीबों के लिए बिहार की सरकारी योजनाएं चलती रहती हैं. ऐसी ही एक योजना राज्य के दिव्यांग बेटेबेटियों की सहायता के लिए शुरू की गई है। इस योजना का नाम दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना बिहार है। सरकार बिहार के विकलांग बेटे और बेटियों की शादी के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। इस योजना से राज्य के 40% विकलांग लड़के और लड़कियों को लाभ होगा। यदि आप बिहार के विकलांग नागरिक हैं और इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो आपको सबसे पहले यह निर्धारित करना होगा कि आप किस योजना के लिए आवेदन करेंगे। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बिहार दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करेंगे।

बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने इस योजना का शुभारंभ किया। दिव्यांग नागरिकों को विवाह करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। बिहार सरकार इस योजना के तहत राज्य के सभी समुदायों के विकलांग पुरुषों और महिलाओं के विवाह के लिए 100,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार विकलांग लोगों को शादी के लिए प्रोत्साहित करेगी। उन्हें वित्तीय सहायता के रूप में 100,000 रुपये की प्रोत्साहन राशि भी मिलेगी। विवाह सहायता की राशि राज्य सरकार से सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से हस्तांतरित की जाएगी।

दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना बिहार

Details of दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना बिहार 

योजना का नाम दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना बिहार
लाभार्थी राज्य के दिव्यांग लड़का, लड़की
विभाग समाज कल्याण विभाग बिहार
योजना की घोषणा वर्ष 2016 में
शुरू की गई मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के द्वारा
उद्देश्य शादी के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन
प्रोत्साहन राशि 1 लाख रुपए

दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना बिहार का उद्देश्य

हम सभी उन चुनौतियों से अवगत हैं जिनका सामना विकलांग लोगों को करना पड़ता है। इसके साथ ही विकलांग नागरिकों के विवाह में भी कई तरह की समस्याएं सामने आती हैं। विकलांग नागरिकों के लिए वित्तीय बाधाओं के कारण शादी करने में असमर्थ होना भी आम बात है। इसे ध्यान में रखते हुए, मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने योजना की शुरुआत की, जो राज्य के विकलांग नागरिकों के विवाह के लिए 100000 की प्रोत्साहन राशि प्रदान करेगी। किसी दिव्यांग लड़के या लड़की की शादी के लिए आर्थिक सहायता प्रदान कर अन्य दिव्यांग नागरिकों को प्रोत्साहित किया जा सकता है। केवल 40% से अधिक विकलांगता वाले लोगों को राज्य सरकार की इस योजना से बाहर रखा जाएगा।

लाभ और विशेषताएं

  • राज्य के विकलांग नागरिकों को विवाह के लिए प्रोत्साहन राशि प्रदान करेगी।
  • बिहार सरकार राज्य के विकलांग लड़के और लड़की को उनकी शादी के लिए 100,000 रुपये का अनुदान देगी।
  • इस राशि से दिव्यांग नागरिक विवाह कर सकेंगे।
  • दिव्यांगों को सामाजिक एवं आर्थिक उत्थान प्रदान करेगी।
  • इसका लाभ लेने से राज्य के दिव्यांगजन आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • प्रदान की जाने वाली सहायता राशि डीबीटी के माध्यम से सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में स्थानांतरित की जाएगी।
  • दिव्यांग जोड़े दो साल के भीतर इस योजना के तहत धनराशि के लिए विभाग में आवेदन कर सकते हैं।

पात्रता

  • पात्र होने के लिए आवेदक को बिहार का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक अनिवार्यतः अपात्र होना चाहिए।
  • इस योजना के लिए पात्र होने के लिए कम से कम 40% अधिक होना चाहिए।
  • सूची में शामिल नागरिकों के पास अपना बैंक खाता होना चाहिए।
  • पतिपत्नी दोनों का वैवाहिक स्थिति में एक होना आवश्यक है।
  • राज्य या संघीय सरकारों द्वारा संचालित किसी अन्य विवाह योजना में आवेदन करने से लाभ प्राप्त नहीं होता है।
  • पुनर्विवाह यानी दूसरी और तीसरी शादी के लिए लाभ प्रदान नहीं किया जाएगा।
आवश्यक दस्तावेज
  • पतिपत्नी का आधार कार्ड
  • शादी के वक्त दंपत्ति की फोटो
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड की फोटो कॉपी
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • ज्वाइंट बैंक अकाउंट की पासबुक
  • विकलांगता प्रमाण पत्र
  • आयु या जन्म प्रमाण पत्र
  • सरकारी अस्पताल के चिकित्सा द्वारा जारी किया गया प्रमाण पत्र
  • शादी का निमंत्रण कार्ड
दिव्यांग विवाह प्रोत्साहन योजना बिहार 2024 के लिए आवेदन कैसे करें?
  1. सबसे पहले आपको आवेदन करने के लिए अपने जिले के जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग के कार्यालय में जाना होगा।
  2. आवेदन पत्र प्राप्त करने के लिए आपको वहां जाना होगा।
  3. आवेदन पत्र प्राप्त करने के बाद आपको सभी आवश्यक जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज करनी होगी।
  4. सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सभी आवश्यक दस्तावेज इस आवेदन पत्र के साथ संलग्न करने होंगे।
  5. इसके बाद, आपको यह आवेदन पत्र अपने जिले के सामाजिक सुरक्षा सेल कार्यालय में जमा करना होगा।
  6. उसके बाद, आपके आवेदन पत्र की समीक्षा की जाएगी।
  7. यदि सत्यापन के बाद आवेदन पत्र में कुछ भी सही पाया जाता है, तो बिहार राज्य सरकार आपके खाते में अनुदान राशि भेज देगी।

बिहार मखाना विकास योजना

Official Link Click Here
ModiScheme Homepage Click Here

 

Leave a Comment