बिहार जल जीवन हरियाली योजना 2024 क्या है और इसके लिए आवेदन कैसे करे?

राज्य सरकार ने बिहार जल जीवन हरियाली योजना शुरू की है, जिसके तहत सभी जल संरक्षण परियोजनाएं शुरू हो गई हैं। इस योजना के तहत राज्य में अधिक से अधिक पेड़ लगाना, तालाबों और कुओं का निर्माण करना, पुराने जल स्तंभों का अस्तर बनाना आदि कार्य करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके अलावा, इसके तहत राज्य के किसानों को तालाबों और पोखरों के निर्माण के साथसाथ खेत की सिंचाई के लिए भी वित्तीय सहायता उपलब्ध है। सरकार के कृषि विभाग द्वारा शुरू की गई इस योजना के हिस्से के रूप में राज्य में जल संरक्षण और शिक्षा परियोजनाएं शुरू हो गई हैं। राज्य सरकार इसके तहत राज्य में किसानों को सीवेज सुविधाओं के लिए तालाब और पोखर बनाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है। इसके अलावा, राजस्व और भूमि सुधार विभाग राज्य भर में डूब और हेलीकॉप्टरों के विभिन्न सार्वजनिक जल निवेशकों की पहचान करता है, और आवश्यक जल निकासी की अनुमति देते हुए संबंधित रिपोर्ट तैयार की जाती है। इसके तहत पिछले साल दो साल में 1 करोड़ पेड़पौधों की हिस्सेदारी तय की गई थी और 2024 तक 24 हजार 524 करोड़ रुपये की हिस्सेदारी तय की गई थी.

बिहार जल जीवन हरियाली योजना

Details of Jal Jeevan Hariyali Scheme 

योजना का नाम जल जीवन हरियाली योजना
वर्ष 2024
श्रेणी बिहार सरकारी योजनाएं
लाभार्थी राज्य के किसान नागरिक
आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन
आरम्भ की गयी मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी के द्वारा
लाभ किसानों को सब्सिडी प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट https://dbtagriculture.bihar.gov.in/

बिहार जल जीवन हरियाली योजना उद्देश्य

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जल जीवन हरियाली योजना का प्राथमिक लक्ष्य पर्यावरण को स्वच्छ बनाना और जल निकायों का संरक्षण और रखरखाव करना है। यह योजना जलवायु परिवर्तन में सुधार, पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने, अधिक से अधिक पेड़ लगाने आदि द्वारा राज्य में कृषि उत्पादन क्षमता में वृद्धि करेगी। इसके साथ ही, राज्य किसानों को उनके खेतों में बेहतर सिंचाई सुविधा प्रदान करने के लिए तालाब और कुएं बनाने के लिए 75,500 रुपये की सब्सिडी के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान करता है। इस योजना के तहत राज्य में विभिन्न जल निकायों जैसे हैंडपंप, तालाब, पोखर, कुएं आदि के संरक्षण और मरम्मत कार्य के साथसाथ सरकारी भवनों में वर्षा जल को संरक्षित करने के लिए जल संचयन भी किया जाता है।

लाभ एवं विशेषताएं

  • राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना से बिहार के किसान भाइयों को लाभ होगा।
  • इस योजना के तहत हैंडपंपों, कुओं और सरकारी भवनों में वर्षा जल को संग्रहित करने के लिए जल संचयन भी किया जाता है।
  • बिहार सरकार की योजना के तहत पहाड़ी इलाकों में बांध और छोटी नदियों का भी निर्माण किया जा रहा है.
  • राज्य सरकार की यह योजना किसानों को अपने खेतों में सिंचाई के लिए तालाब, पोखर और कुओं के निर्माण के लिए 75,500 रुपये की सब्सिडी के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान करती है।
  • जल निकायों के स्रोतों जैसे पुरानी नदियों, तालाबों, छोटी नदियों, पुराने कुओं आदि की मरम्मत भी करती है।

पात्रता मापदंड

  1. आवेदन करने के लिए आवेदक को बिहार राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  2. इसके साथ ही ऐसे किसान जो 5 हेक्टेयर क्षेत्र का लाभ लेना चाहते हैं उन्हें भी इस योजना से लाभान्वित किया जाता है।
  3. राज्य सरकार 5 हेक्टेयर से अधिक भूमि वाले किसानों के लिए सब्सिडी की पूरी लागत वहन करती है।
  4. इस योजना से जीविका समूह और कृषक उत्पादक संगठन के किसानों को भी लाभ होगा.
  5. यदि आवेदक बिहार राज्य का किसान है तो ही वह इस योजना के लिए पात्र माना जाएगा।
  6. राज्य सरकार की यह योजना इच्छुक किसानों को केवल एक एकड़ भूमि की सिंचाई के लिए अनुदान प्रदान करेगी।
आवश्यक दस्तावेज 
  • आधार कार्ड
  • भूमि के कागज़ात
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
जल जीवन हरियाली योजना 2024 के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया?
  1. सबसे पहले आपको बिहार कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल कर जायेगा। 
  3. वेबसाइट के होमपेज परजल जीवन हरियाली योजनाके अंतर्गतआवेदन करेंके विकल्प पर क्लिक कर एक नया पेज प्रदर्शित हो कर जायेगा। 
  4. इस नए पेज पर आपकोकिसान का समूहएवंस्वयं किसानके दो विकल्प अपने जरुरतानुसार किसी एक विकल्प पर क्लिक कर देना होगा। 
  5. यदि आपनेकिसान का समूहके विकल्प पर क्लिक करते है, तो चयनित किसान प्रमुख के 13 अंको का पंजीकरण संख्या के विवरण दर्ज कर देने होंगे।
  6. अगर आपनेस्वयं किसानके विकल्प का चयन किया है, तो आपको स्वयं के 13 अंको के पंजीकरण संख्या के विवरण दर्ज कर  “सर्चके विकल्प पर क्लिक कर देना होगा। 
  7. इसके बाद आपके सामने एक आवेदन पत्र खुल कर जायेगा।
  8. आवेदन पत्र में आपको पूछी गयी सभी आवश्यक जानकारी, जैसे:- किसान का नाम, पिता का नाम, पंचायत का नाम, आधार नंबर, ईमेल एड्रेस, मोबाइल नंबर आदि के विवरण दर्ज कर  “गेट ओटीपीके विकल्प पर क्लिक  पंजीकृत मोबाइल पर एक ओटीपी प्राप्त हो जायेगा। 
  9. अब आपको प्राप्त ओटीपी को आवेदन पत्र में दर्जसबमिटके विकल्प पर क्लिक कर देना होगा, जिसके बाद आपका आवेदन पूरा हो जायेगा।

बिहार पेड़ लगाओ पैसे पाओ योजना

Official Link Click Here || Link 2
ModiScheme Homepage Click Here

Leave a Comment